क्या कभी-कभी बाईबल नहीं पढ़ना पाप है?

कभी-कभी किसी कारणवश मैं बाईबल नहीं पढ़ पाता हूँ। उस दिन मुझे बहुत दोषपन का एहसास होता है। ऐसा लगता है कि आज मेरा दिन बेकार बीतेगा। मैं क्या करू?

मेरे प्यारे मित्र, हमलोग कोशिश करते हैं कि हर दिन परमेश्वर के साथ समय बिताए लेकिन कभी-कभी किसी कारणवश छूट जाता है। तब ऐसे में यह करें। घबराए नहीं। अनुग्रहकारी परमेश्वर हमें और हमारी कमजोरियों को जानता है। इस बात के लिए आप परमेश्वर से माफी मांगे और दोषपन से छुटकारा पाए। आप परमेश्वर से कहे – “हे प्रभु! आज आप समय से पहुँच कर मेरा काफी इंतजार किए होंगे लेकिन आज मैं आपके साथ समय नहीं बिता सका। इस बात के लिए मुझे दुख है। कृपया मुझे क्षमा करे। मुझे मालूम है कि आप मेरा साथ हर समय रहते है। मेरा अंदर का दोषपन से मुझे छुटकारा दीजिए। यीशु के नाम से अमीन।“

   अगर प्रार्थना के बाद भी मन में घबराहट है और दोषपन का एहसास हो रहा है तो घबराए नहीं। यह जान लें कि यह विचार- “आज मेरा दिन खराब बीतेगा“ शैतान की ओर से है। आप प्रभु यीशु के नाम से शैतान को डाँटे और छुटकारा प्राप्त करें।

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp
Share on email
Email

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Open chat
Hello!
हम आपकी क्या मदद कर सकते हैं?