COURSE SECTION

Free Courses available

Udemy- Discipleship Course

About Instructor

PAID COURSES with Certificate

Easy Language
बेहद ही आसान भाषा में बाइबिल सीखने का अनुभव मिलेगा
देखें और सीखें
आप जितनी बार चाहें विडियो देख सकते हैं और वचन में महारत हासिल कर सकते हैं
सर्टिफिकेट
कोर्स के अंत में आपको मिलेगा उपलब्धि
Click Here
Previous
Next

Beginner

बाइबिल जानने की शुरुवात आज करें

Champian

अब आप बाइबिल के जानकार बन चुके हैं
Tree Fallen

आखिर यह पेड़ इतना आसानी से क्यों गिर गया? क्योंकि इस पेड़ का जड़ मजबूती से गहराई तक नहीं गया था। इसी तरह अगर हमारा विश्वास का नीव मजबूती से गहराई तक नहीं गया है तो फिर कभी भी गिरने की सम्भावना है। बहुत से झूठे शिक्षक आकर हमें अपनी बातों से भरमा देते हैं। हम भी सोच में पड़ जाते हैं कि क्या सही है और क्या गलत। हम अपने विश्वास पर संदेह करने लगते हैं। मन में कई तरह का सवाल उठने लगता है। उन सवालों के ताना-बाना में हम फंस कर रह जाते हैं। शायद आप भी ऐसे ही कुछ सवालों से जूझ रहे होंगे।

किसी ने सच कहा है – “जैसा तुम्हारा विश्वास होगा वैसा ही तुम्हारा व्यवहार भी होगा।“ इसका अर्थ यह है कि हम जैसा सोच रखते हैं वैसा काम भी करते हैं। अगर एक छात्र ऐसा सोच रखता है कि परीक्षा में चीटिंग (नकल) कर के लिखना सही है तो वह हर परीक्षा में नकल करेगा और जीवन में कई बार झूठ भी बोला करेगा। आखिर ऐसा क्यों? क्योंकि वह छात्र विश्वास करता है कि झूठ बोलना या नकल करना जायज़ है। ठीक उसी तरह आज हमारा हर काम के पीछे हमारा विश्वास (सोच) है। हर चीज और काम के पीछे हमारा विश्वास (सोच) छिपा है। इसीलिए हमें जानना चाहिए कि हम क्या और क्यों विश्वास करते हैं।

जिस विश्वास की हम बात कर रहे हैं उसे हम “मसीही सिद्धांत” कहते हैं। अंग्रेजी में इसे क्रिश्चियन डॉक्टरिन के नाम से भी जाना जाता है। क्रिस्चियन डॉक्ट्रिन” मतलब मसीही विश्वास के सिद्धांत। ऐसे सच्चाई जो कभी बदलता नहीं। ऐसे नीव जिस पर आपका विश्वास मजबूती से टीका होना चाहिए। ऐसी शिक्षा जो आपको झूठे शिक्षकों को पहचानने में सहायता करेगा। यही मूलभूत ऐतिहासिक विश्वास हमारे जीवन का हर क्षेत्र को प्रभावित करता है। अगर आप से इन सवालों को पूछा जाए तो क्या आप गहराई से इनका उत्तर दे सकते हो?
  • परमेश्वर को कभी किसी ने नहीं देखा। तो क्या सच में परमेश्वर है?
  •   बाईबल को 40 लेखकों ने लिखा है तब तो यह मनुष्य द्वारा लिखी गयी पुस्तक हो गयी?
  • बाईबल में परमेश्वर का वचन मिलता है या सम्पूर्ण बाईबल परमेश्वर का वचन है?
  • जबकि और भी पुस्तकें लिखी गयी तो फिर हम बाईबल की केवल 66 पुस्तकों पर ही विश्वास क्यों करे?
  • किसका बात मानना चाहिए पास्टर बिशप का या बाईबल का? इनमें से कौन बड़ा है?
  • पूरा बाईबल में त्रिएक शब्द कहीं भी नहीं लिखा हुआ तो फिर मसीही लोग त्रिएक परमेश्वर पर क्यों विश्वास करते हैं?
  • पिता, पुत्र और पवित्रात्मा में कौन सबसे शक्तिशाली है?
  • अगर परमेश्वर सर्वशक्तिमान है तो वह दुनिया से बुराई को क्यों नहीं मिटाता?
  • क्या पुरुष को परमेश्वर ने स्त्री पर हुकुम चलने के लिए बनाया है?
  • क्या सच में स्वर्ग नरक होता है? 
  • क्या अनंत जीवन पाने के लिए भला काम करना जरुरी है?
  • स्वर्ग जाने के लिए यीशु ही क्यों?
  • अगर किसी ने प्रभु यीशु को ग्रहण किया हो और फिर कुछ साल बाद बेक स्लाइड होने लगे तो क्या वह व्यक्ति अपना उद्धार खो सकता है?
  • हम कैसे मान लें कि यीशु मर का दोबारा जिन्दा हो गया था?
  • क्या सच में मसीही लोग एक दिन जी उठेंगे?
  • पवित्रात्मा एक शक्ति है या व्यक्ति?
  • पवित्रात्मा किसको मिलता है?
  • क्या पवित्रात्मा के नौ फल होते हैं?
  • क्या पवित्रात्मा पाने का चिन्ह केवल अन्य अन्य भाषा ही है?
  • क्या आत्मा के केवल नौ वरदान होते हैं?
  • पवित्रात्मा का बप्तिस्मा और आत्मा से परिपूर्ण होने में क्या अंतर है?
  •   मुझे किस चर्च में जाना चाहिए? कौन सा चर्च सही है?
  •   क्या ऑनलाइन चर्च सही है?
  • क्या चर्च जाना जरुरी है ?    यीशु को गए दो हजार साल बीत गए। क्या सबूत हैं कि यीशु मसीह दोबारा आने वाले हैं?
  • दुनिया का अंत होने और यीशु के दोबारा आने का क्या क्या चिन्ह होगा?
  • अन्य और भी बहुत कुछ..

मसीही सिद्धांत कोर्स में कैसे रजिस्टर करे?

  1. सब से पहले आप गूगल प्ले स्टोर से Udemy App इंस्टॉल करे।
  2. फिर बाइबल कोर्स का लिंक में क्लिक करे –
  3. उसके बाद सब से नीचे ENROLL पर क्लिक करे।
  4. इसके बाद ऑनलाइन पेमेंट कर दे।
  5. पेमेंट करने के बाद आप कोर्स को Udemy एप में शुरू कर सकते हो।

 

अधिक जानकारी के लिए संपर्क करें – +91 9538581282

Open chat
Hello!
हम आपकी क्या मदद कर सकते हैं?